ताज़ा खबर धर्म-कर्म-मजहब राजस्थान सीकर

खाटू नगरी में आज कृष्ण जन्माष्टमी पर सुनाई नहीं देगा नंद के आनंद भयो..का जयकारा

सीकर: खाटूश्यामजी मे जहां हर वर्ष देशभर से हजारों श्रद्धालु खाटूधाम पहुंचकर बाबा श्याम के दर पर कृष्ण जन्माष्टमी का पर्व बड़े ही हर्षोल्लास के साथ मनाते है और पूरी नगरी नंद के आनंद भयो.., हाथी घोड़ा पालकी..जैसे अनेक जयकारों से सरोबार होती थी. संध्या होते ही मंदिर परिसर में देवी देवताओं की आलौकिक झांकियों के बीच कृष्ण और श्याम भजनों का दौर रात्रि 12 बजे तक चलता था. मगर इस बार कोरोना संक्रमणकाल के चलते आज बिना भक्तों के जन्माष्टमी का पर्व सादगीपूर्ण तरीके से मनाया जाएगा. श्री श्याम मंदिर कमेटी द्वारा रात्रि 12 बजे बाबा श्याम की विशेष आरती के बाद  पंजीरी, माखन मिश्री, पंचामृत और 56 भोग बाबा श्याम को लगाया जाएगा. कमेटी की ओर से भक्तों के लिए सोशल मीडिया पर लाइव दर्शन और आरती की व्यवस्था कर रखी है.

19 मार्च से ही बाबा श्याम के कपाट दर्शनार्थ बंद कर दिए गए थे:
गौरतलब है कि कोरोनाकाल के चलते हुए लॉकडाउन के कारण 19 मार्च से ही बाबा श्याम के कपाट दर्शनार्थ बंद कर दिए गए थे. कोरोनाकाल में भी श्रद्धालुओं के आने का सिलसिला बदस्तूर जारी है. मगर राज्य सरकार की गाइडलाइन के कारण मंदिर कमेटी ने मुख्य प्रवेश द्वार पर बेरिकेट्स लगाकर दर्शन मार्ग को बंद होने के कारण श्रद्धालु यहां से ही धोक लगाकर और प्रसाद चढाकर मनौतियां मांग कर अपने गंतव्या की ओर लौट रहे हैं.

बिना भक्तों के बाजार भी वीरान:
विशेषतौर पर कृष्ण जन्माष्टमी के दिन बाजार भक्तों से गुलजार रहते हैं. इस दिन पोशाक की दुकानों पर श्रद्धालु कृष्ण भगवान की पीत्तल की मूर्ति, पोशाक, पालना और उनके सजावट के सामान सहित भगवान को गर्मी से निजात दिलाने के लिए मिनी कूलर व पंखे की जमकर बिक्री होती है. मगर इस बार बिना भक्तों के बाजार वीरान होने से दुकानदार भी मायूस बैठे हैं.

हर धर्मशाला व वार्डो में होते है महोत्सव:
कृष्ण जन्मोत्सव के अवसर पर खाटू की अधिकांश धर्मशालाओं में भजन संध्याएं आयोजित होती है. जिसमें देशभर के नामी गिरामी गायक कलाकार श्याम भजनों की प्रस्तुतियां देते है. वहीं अनेक वार्डो में महोत्सव और प्रतियोगिताएं होती है. जिसमें बच्चों से लेकर बड़े चाव से भाग लेते है. मगर इस बार पुलिस और प्रशासन के आदेश के चलते कार्यक्रम नहीं होंगे.

पुलिस ने की घर में जन्माष्टमी मनाने की अपील: 
कोरोना के बढते संक्रमण को देखते हुए पुलिस ने कुछ दिन पहले शांति समिति की बैठक आयोजित की थी. जिसमें स्वास्थ्य को ध्यान में रखते हुए कृष्ण जन्माष्टमी पर कार्यक्रम नहीं होने सहित सभी भक्तों को घर में ही पर्व मनाने की हिदायत दी थी. थाना प्रभारी पूजा पूनियां ने बताया कि इस दिन भक्त मंदिर तक नहीं पहुंचे. इसके लिए अतिरिक्त पुलिस जाप्ता मंगवाया गया है. वहीं मुख्य रास्तों पर बेरिकेड्स लगाकर श्रद्धालुओं को रोका जाएगा.

Breaking News

prev next

Advertisements

E- Paper

Advertisements

Our Visitor

1345018

Advertisements