जयपुर धर्म-कर्म-मजहब राजस्थान

जन्माष्टमी पर आज राशि अनुसार करें भगवान श्रीकृष्ण पूजा, भाग्य देगा भरपूर साथ

जयपुर: दैनिक राशिफल चंद्र ग्रह की गणना पर आधारित होता है. राशिफल की जानकारी करते समय पंचांग की गणना और सटीक खगोलीय विश्लेषण किया जाता है. दैनिक राशिफल में सभी 12 राशियों के भविष्य के बारे में बताया जाता है. ऐसे में आप इस राशिफल को पढ़कर अपनी दैनिक योजनाओं को सफल बना सकते हैं.

वृष : भगवान श्रीकृष्ण का पंचामृत से अभिषेक करें. दूध से निर्मित मिठाई, रसगुल्ले  का भोग लगाये. कमलगट्टे की माला से ‘ हरे कृष्णा ‘ मंत्र  का  जाप करें.

मिथुन : भगवान श्रीकृष्ण का दुग्ध से अभिषेक करें. पंचमेवा से निर्मित मिठाई और केले का भोग लगाना चाहिए. साथ ही ‘श्रीराधायै स्वाहा’ मंत्र की तुलसी या स्फटिक की माला से जाप  करें.

कर्क :  भगवान राधेकृष्ण का अभिषेक केसर मिश्रित दूध से करें. काजू की बर्फी का भोग लगाना चाहिए.  ‘श्रीराधा वल्लभाय नमः’ मंत्र की पांच माला का जाप करें. फलों में पानीवाला नारियल चढ़ाएं.

सिंह : भगवान श्रीकृष्ण का गंगाजल में शहद मिलाकर अभिषेक करें. गुड़ का भोग लगाये.  ‘ॐ विष्णवे नमः’ मंत्र का जाप करें.  बादाम, मिश्री और फल शिव को अर्पित करें.

कन्या : भगवान श्रीकृष्ण का दूध में घी मिलाकर अभिषेक करें. दूध से बनी हुई मिठाई का भोग लगाये. ॐ श्री गोविन्दाये नमः  मंत्र का  का जप करें. भगवान कृष्ण को लौंग, इलायची, तुलसी का पत्ता, हरा पान और कोई हरा फल भोग में लगाएं.

तुला :  भगवान कृष्ण का  दूध में शक्कर मिलाकर अभिषेक करें. दूध से निर्मित प्रसाद चढ़ाना चाहिए और श्री कृष्णाय नमः मंत्र की माला का जाप करें और महाप्रसाद में बादाम, माखन, मिश्री और केला भोग में लगाएं.

वृश्चिक : भगवान श्रीकृष्ण का पंचामृत से अभिषेक करें. गुड़ से बने हुए मिष्ठान का भोग लगाये. ‘श्री राधा कृष्णाय नमः’ मंत्र के कम-से-कम पांच माला का जाप करें. साथ ही पंचमेवा फलों में पानी वाला नारियल भोग में लगाएं.

धनु : भगवान श्रीकृष्ण का शहद और दूध से अभिषेक करें. बेसन की मिठाई का भोग लगायें. ॐ नमो नारायणाय नमः’ मंत्र की पांच माला का जाप करें. पीला वस्त्र और पीला फल चढ़ाएं. अमरूद चढ़ाएं. सफ़लता कदम चूमेंगी.

मकर : भगवान श्रीकृष्ण को गंगाजल से अभिषेक करें.  ‘ॐ देवकीसुत गोविंदाय नमः’ मंत्र का जाप करें. अंगूर, मीठा पान और केसरवाली मिठाई भोग लगाएं. व्यापार में लाभ की प्राप्ति होगी.

कुंभ : भगवान श्रीकृष्ण का पंचामृत से अभिषेक करें. लालिमायुक्त दूध से निर्मित मिठाई का भोग लगाये. ‘ॐ  नमो भगवते वासुदेवाय’ मंत्र का 11 माला  जाप करें.  मेवे, बादाम, काजू, किशमिश, पिस्ता, अखरोट का प्रसाद चढ़ायें.

मीन : भगवान श्रीकृष्ण का पंचामृत से अभिषेक करें. माखन मिश्री का भोग लगाये, इलयाची, नारियल, फल अर्पण करें. ‘ॐ  माधवाय  नमः’ मंत्र का जाप करें. भगवान को इलायची, नारियल और फल अर्पित करें. सब दुखो से मुक्ति मिलेगी.

Breaking News

prev next

Advertisements

E- Paper

Advertisements

Our Visitor

1344962

Advertisements