COVID-19 जयपुर ताज़ा खबर दिल्ली राजनीति राजस्थान

कौन खाली करवा रहा है सचिन पायलट, विश्वेंद्र सिंह और रमेश मीणा का बंगला

महका संसार

आखिरकार आज खत्म हो रही पायलट-रमेश मीणा-विश्वेंद्र सिंह के सरकारी बंगलों की मियाद !

जयपुर: सरकारी बंगले को लेकर प्रदेश की सियासत में एक बार फिर चर्चाओं का बाजार गर्म है. सचिन पायलट, रमेश मीणा और विश्वेंद्र सिंह के सरकारी बंगलों को खाली करने की आज मियाद खत्म हो रही है. पूर्व मंत्री की हैसियत से ये तीनों नेता सरकारी बंगले में रह रहे हैं.

बंगला खाली नहीं करने की स्थिति में 10 हजार प्रतिदिन किराया देना होगा: 
नियमानुसार सरकारी बंगला दो महीने में खाली करना पड़ता है और तीनों को मंत्री पद से हटे आज दो महीने पूरे हो रहे हैं. बंगला खाली नहीं करने की स्थिति में 10 हजार प्रतिदिन किराया देना होगा. लेकिन फिलहाल सरकार के नोटिस का इंतजार किया जा रहा है. राज्य सरकार ने तीनों पूर्व मंत्रियों को अब तक बंगला खाली करने का नोटिस नहीं दिया है.

तीनों पूर्व मंत्री वर्तमान सरकारी बंगलों में रहने के लिए ELIGIBLE: 
वहीं इस बीच पायलट कैंप से जुड़े सूत्र ने जानकारी देते हुए कहा कि तीनों पूर्व मंत्री वर्तमान सरकारी बंगलों में रहने के लिए ELIGIBLE है. राज्य सरकार ने विधानसभा सदस्यों के निवास संबंध में एक अगस्त को संशोधन किया था और इस संशोधन के आधार पर मंत्री पद से हटने के बाद भी बंगला उसी श्रेणी का मिलेगा. सूत्र ने कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे का बंगला भी इसी संशोधन के तहत यथावत रहा है.

अब हर किसी को सरकार के फैसले का इंतजार:
हाईकोर्ट में पेश शपथ पत्र की श्रेणियों के अनुसार भी बंगला खालनी नहीं कराया जा सकता है. हालांकि फिलहाल विधानसभा पुल में शामिल चार बगलों पर ही ये नियम लागू है. अब हर किसी को सरकार के फैसले का इंतजार है क्योंकि नए मंत्री बनने वाले विधायकों को भी मकान देने होंगे.

Breaking News

prev next

Advertisements

E- Paper

Advertisements

Our Visitor

1342867

Advertisements