ताज़ा खबर नागौर राजस्थान

नागौर में गोचर भूमि को अतिक्रमण मुक्त कराने की पहल, कलेक्टर सोनी ने दिए हैं यह निर्देश

  • अब गोचर भूमि को अतिक्रमण मुक्त कराने के लिए चलेगा अभियान
  • जिला कलक्टर ने साप्ताहिक समीक्षा बैठक में दिए आवश्यक दिशा-निर्देश
  • नगरपालिका क्षेत्रों में होगी आवारा गौवंश की गणना

नागौर। नागौर जिले में रास्ता खोलो अभियान के सफलतम प्रयास के बाद अब गांवों में गोचर भूमि को अतिक्रमण से मुक्त कराने के लिए भी अभियान चलाया जाएगा। इसे लेकर जिला कलक्टर डाॅ. जितेन्द्र कुमार सोनी ने सोमवार को राजीव गांधी आईटी सेंटर में आयोजित साप्ताहिक समीक्षा बैठक में आवश्यक दिशा-निर्देश दिए।
जिला कलक्टर ने साप्ताहिक समीक्षा बैठक में वीडियो कांफ्रेसिंग से जुड़े उपखण्ड अधिकारियों व तहसीलदारों को निर्देश दिए कि वे गोचर भूमि पर अतिक्रमण के मामले चिन्हित करें। डाॅ. जितेन्द्र कुमार सोनी ने अतिक्रमण मुक्त गोचर भूमि अभियान के तहत पहले चरण में अस्थाई अतिक्रमण वाली गोचर भूमि पर ग्रामीणों से समझाईश व पुलिस जाप्ते का सहयोग लेकर अतिक्रमण हटवाने की कार्रवाई करें। फिलहाल यह अभियान उन ग्राम पंचायतों में ही चलेगा, जहां पंचायत चुनाव हो चुके हैं रास्ता खोलो अभियान में अब तक निस्तारित किए गए दो सौ से अधिक प्रकरणों में उपखण्ड अधिकारी, तहसीलदार तथा उनकी राजस्व टीम के प्रभावी प्रयासों और कार्रवाई की जिला कलक्टर ने सराहना की। डाॅ. सोनी ने निर्देश दिए कि रास्ता खोलो अभियान में निस्तारित किए गए प्रकरणों में किसी में भी अब दुबारा आम रास्ता अवरूद्ध करने की कोशिश किसी भी व्यक्ति द्वारा की जाती है तो उसके विरूद्ध कानूनी कार्रवाई करें।
जिला कलक्टर डाॅ. जितेन्द्र कुमार सोनी ने बैठक व वीडियो कांफ्रेसिंग में बताया कि अब सूचना एवं प्रौद्योगिकी विज्ञान विभाग की टीम ने रास्ता खोलो अभियान के तहत अब तक खुलवाए गए रास्ते का विवरण नागौर जिले की वेबसाइट पर आॅनलाइन अपलोड कर दिया गया है। आवारा गौवंश की समस्या का स्थाई करने के लिए जिला कलक्टर ने जिला मुख्यालय पर नंदीशाला के लिए हुए एमओयु का जिक्र करते हुए सभी पंचायत समिति मुख्यालयों पर नंदीशालाएं खोलने की प्रक्रिया जल्द पूरी करने तथा शहरी क्षेत्रों में आवारा गौवंश की गणना करने के निर्देश दिए।
जिला कलक्टर ने पशुपालन विभाग के संयुक्त निदेशक को निर्देश दिए कि गौशाला में भेजी जाने वाले गौवंश की टैगिंग करवाएं तथा इनाफ की वेबसाइट पर उनकी लोकेशन व डिटेल अपलोड करें। टैगिंग के बाद भी गौशालाओं में रखा जाने वाला गौवंश आवारा सड़कों पर घूमता पाया गया तो इसकी जांच करें और आवश्यक कार्रवाई करें। कुचेरा नगरपालिका के अधिशासी अधिकारी को जिला कलक्टर ने निर्देश दिए कि वे कस्बे में पुुराने तालाब को ठीक करें। इसके अतिरिक्त कस्बे में सड़कों की मरम्मत से लेकर सफाई व्यवस्था सुचारू रखी जाए।

Breaking News

prev next

Advertisements

E- Paper

Advertisements

Our Visitor

1342873

Advertisements