राजस्थान

पेट्रोल एवं डीजल पंप संचालकों को आदेश, न आए पीओएल संबंधी कोई दिक्कत

जिला कलक्टर(रसद) ने जारी किए आदेश
नागौर, 15 सितम्बर। पंचायतीराज चुनाव-2020(माह सितम्बर एवं अक्टूबर) के दौरान पेट्रोल एवं डीजल तथा आॅयल की उपलब्धता एवं आपूर्ति व्यवस्था सुचारू रखने बनाए रखने के लिए जिले के समस्त पेट्रोल एवं डीजल पम्प अनुज्ञापत्रधारियों को जिला कलक्टर (रसद) ने आदेश जारी किया है।
जिला निर्वाचन अधिकारी (रसद) डाॅ. जितेन्द्र कुमार सोनी ने पेट्रोल एवं डीजल पंप संचालकों को आदेश जारी किया है कि वे पंचायतीराज चुनाव-2020 के दौरान जिला निर्वाचन अधिकारी, प्रभारी अधिकारी यातायात, नागौर, उपखण्ड अधिकारी, तहसीलदार, विकास अधिकारी द्वारा पंचायत आम चुनाव-2020 के कार्यों के लिए जारी स्लिप पर डीजल, पेट्रोल व मोबिल आॅयल मतगणना कार्य संपादित होने तक उपलब्ध करवाएंगे। उपखण्ड एवं तहसील मुख्यालय पर अवस्थित प्रत्येक पेट्रोल पंप द्वारा 2000 हजार डीजल एवं अन्य द्वारा 500 लीटर डीजल एवं 500 लीटर पेट्रोल(डेड स्टाॅक के अलावा) तथा 50 लीटर आॅयल का स्टाॅक हर समय आरक्षित रखा जाएगा। इस स्टाॅक का उपयोग पंचायत आम चुनाव-2020 के दौरान जिला कलक्टर(रसद), जिला रसद अधिकारी तथा संबंधित उपखण्ड अधिकारी, तहसीलदार तथा विकास अधिकारी के आदेश पर ही किया जाएगा।
पंचायत आम चुनाव 2020 के दौरान उस क्षेत्र के समस्त पेट्रोल पम्प अनुज्ञाधारी अपने यहां  पम्प की डिस्पेस्सिंग यूनिट एवं मशीन इत्यादि हर समय क्रियाशाील एवं दुरूस्त हालत में रखेंगे ताकि पीओएल प्राप्त करने में किसी तरह की दिक्कत नहीं आ पायें। प्रत्येक पेट्रोल पम्प अनुज्ञापत्र धारी तुरन्त प्रभाव से अपने पेट्रोल पम्प की आपूर्ति व्यवस्था चुनाव कार्यों के लिए 24 घंटे चालू रखेंगे। उक्त आदेशों की पूर्ण रूपेण पालना की जाए ताकि चुनाव संबंधी कार्यों के लिए पीओएल संबंधी कोई दिक्कत नहीं आए। उक्त आदेश का उल्लघंन करने वालों के विरूद्ध आवश्यक कार्यवाही की जाएगी।

Breaking News

prev next

Advertisements

E- Paper

Advertisements

Our Visitor

1342927

Advertisements