राजस्थान

निष्पक्षता, पारदर्शिता एवं शांतिपूर्ण तरीके से दायित्वों का निर्वहन करें-हिमांशु गुप्ता

कोरोना एडवाइजरी का पूर्णतः पालन करते हुए चुनाव कार्यों को अंजाम दें- गुप्ता
गेबाराम चौहान
जालोर। जिला निर्वाचन अधिकारी हिमांशु गुप्ता ने कहा कि पंचायतीराज आम चुनाव में नियुक्त समस्त अधिकारी व कार्मिक निष्पक्षता, पारदर्शिता एवं शांतिपूर्ण तरीके से चुनाव के दौरान सौंपे गये दायित्वों का भलीभांति निर्वहन करे।
          जिला निर्वाचन अधिकारी हिमांशु गुप्ता ने मंगलवार को  पंचायती राज संस्थाओं के आम चुनाव के तहत बहुउद्देशीय सभागार में रिटर्निग व सहायक रिटर्निग अधिकारियों के प्रथम प्रशिक्षण को सम्बोधित करते हुए यह बात कही। उन्होंने कहा कि कहा कि आपसी समन्वय के साथ राज्य निर्वाचन आयोग के निर्देशों की अक्षरशः पालना सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि इस बार चुनाव मे कोरोना महामारी के कारण यह चुनाव चुनौतिपूर्ण है। इसमे हमे राज्य सरकार एवं राज्य चुनाव आयोग द्वारा जारी निर्देशों एवं कोरोना एडवाईजरी का पूर्णतः ध्यान रखते हुए चुनाव कार्यो को अंजाम देना है। उन्होंने कहा कि चुनाव मे सोशल डिस्टेंसिंग का पूरा-पूरा ध्यान रखा जाये। साथ ही सेनेटाईजेशन और मास्क का भी ध्यान रख कर चुनाव कार्यो को पूरा करना है। उन्होंने कहा कि प्रशिक्षण मे कई प्रतिभागी ऐसे होगे जिन्हे पूर्व मे चुनावों का अनुभव है। उन्हीं अनुभवों के साथ कोरोना एडवाईजरी का पालन कर इस चुनाव को भी सफल बनाने मे अपनी भागीदारी सुनिश्चित करे। उन्होने कहा कि प्रशिक्षण के दौरान किसी भी प्रकार की शंका या समस्या होने पर तुरंत इसका समाधान कर ले साथ ही चुनाव के दौरान भी किसी प्रकार की समस्या होने पर तुरंत अपने उच्च अधिकारी से सम्पर्क कर उसका समाधान कर लें। उन्होंने कहा कि चुनाव के दौरान कानून व्यवस्था को बनाये रखते हुए शांतिपूर्ण तरीके से सौंपे गये दायित्वों का निर्वहन करें।
          जिला कलक्टर हिमांशु गुप्ता ने स्टेडियम मे ही प्रायोगिक प्रशिक्षण स्थल पर पहुंच कर ईवीएम एवं मतदान बॉक्स को भी देखा। उन्होंने वहां उपस्थित कार्मिकों से ईवीएम और मतदान बॉक्स की कार्य पद्धति के बारे मे कई सवाल पूछे तथा इनके उपयोग के लिये दिये गये प्रशिक्षण के बारे मे भी जाना । उन्होने मतदान पेटी को मतदान के पश्चात सील करने और मतगणना के समय सील खोलने तथा ईवीएम के उपयोग के बारे मे बारीकी से मतदान दलों के कार्मिको से जानकारी ली।
           जिला कलक्टर ने प्रशिक्षण स्थल पर प्रशिक्षणार्थियों के लिये भोजन और अल्पाहार के लिये स्थापित की गई केंटिन का भी निरीक्षण किया। उन्होने केंटिन संचालक को मास्क और सेनेटाइजर का उपयोग लगातार करने के साथ ही गुणवत्तापूर्ण भोजन और नास्ता उपलब्ध करवाने के निर्देश दिये।
             प्रशिक्षण में प्रभारी अधिकारी (नियुक्ति एवं प्रशिक्षण) एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी अशोक कुमार सुथार ने कहा कि चुनाव के दौरान निर्धारित प्रपत्रों का सावधानीपूर्वक नियम से समय पर पूर्ति कर मतदान कार्य को अंजाम देवें वही प्रायोगिक प्रशिक्षण भी गहनता से प्राप्त करें ताकि निर्वाचन प्रक्रिया सफलतापूर्वक सम्पन्न हो सकें। प्रशिक्षण में मोहनलाल परिहार ने  रिटर्निग व सहायक रिटर्निग अधिकारियों के कर्तव्य एवं दायित्व के बारे में विस्तार से पीपीटी के माध्यम से विभिन्न प्रपत्रों की पूर्ति व मतदान प्रक्रिया आदि के बारे में जानकारी दी। उन्होंने कहा कि वार्ड पंच के चुनाव मतपत्र द्वारा एवं सरपंच के चुनव ईवीएम द्वारा होंगे इसलिए इनके लिए अलग-अलग निर्धारित प्रपत्रों का संधारण तय समयसीमा में करें।
      सैद्धान्तिक प्रशिक्षण के पश्चात समस्त मतदान कार्मिको को ईवीएम/मतपेटी के माध्यम से मतदान की प्रक्रिया का प्रायोगिक प्रशिक्षण दिया गया।
           इस अवसर पर प्रशिक्षण मॉनिटरिंग प्रभारी आनन्द सुथार व प्रायोगिक प्रशिक्षक तथा चुनाव प्रक्रिया से जुडे अन्य अधिकारी और कार्मिक उपस्थित थे।

Breaking News

prev next

Advertisements

E- Paper

Advertisements

Our Visitor

1344997

Advertisements