राजस्थान

कोविड-19 नियमों की पालना के साथ लाचू कॉलेज में परीक्षाएं प्रारम्भ

जोधपुर। लाचू मेमोरियल कॉलेज ऑफ़ साइंस एंड टेक्नोलॉजी में राज्य सरकार के निर्देशानुसार अंतिम सेमेस्टर/वर्ष की परीक्षाएं हमेशा की तरह ऑफलाइन मोड में महाविद्यालय प्रांगण में प्रारम्भ हो गई हैं। परीक्षाओं के आयोजन के संदर्भ में जानकारी देते हुए  केंद्र अधीक्षक प्रो. डॉ. जी.के. सिंह ने बताया कि अंतिम सेमेस्टर/वर्ष की सैद्धांतिक परीक्षाएं 21 सितंबर से 9 अक्टूबर तक चलेंगी, जो कि दो पारियों  11 से 1 बजे और 3 से 5 बजे के मध्य आयोजित की जा रही हैं। किस विद्यार्थी को कौनसे परीक्षा कक्ष में बैठना है, इस संदर्भ में परीक्षार्थियों की कक्षा, रोल नंबर एवं रूम नंबर की जानकारी कॉलेज वेबसाइट पर उपलब्ध करवा दी गई है, ताकि कॉलेज प्रांगण में आने पर विद्यार्थियों को किसी प्रकार की असुविधा ना हो एवं सोशल डिस्टेंसिंग नियमों का समुचित पालन हो सके।
कोविड-19 को देखते हुए प्रथम पारी एवं द्वितीय पारी से पूर्व परीक्षा कक्षों को पूरी तरह से सेनिटाइज किया जा रहा है और प्रवेश द्वार पर थर्मल स्कैनर की व्यवस्था के साथ -साथ विद्यार्थियों को सेनिटाईज भी करवाया जा रहा है। परीक्षार्थियों को परीक्षा से एक घंटे पहले रिपोर्ट करना आवश्यक है एवं सभी परीक्षार्थियों के लिए मास्क की अनिवार्यता के साथ-साथ निश्चित दूरी का ध्यान रखते हुए एक कक्ष में 16 परीक्षार्थी ही बैठाये जा रहे हैं एवं कोविड दिशा-निर्देशों के अनुसार, परीक्षार्थी परीक्षा से पूर्व एवं बाद में इकठ्ठा ना हो, इसके लिए महाविद्यालय में उचित व्यवस्था की गई है।
परीक्षार्थियों को स्वयं की पानी की बोतल लाने की हिदायत दी गई है। अगर फिर भी कोई विद्यार्थी इसमें असमर्थ होता है तो उसे पीने का पानी महाविद्यालय द्वारा डिस्पोसेबल गिलास के माध्यम से पूर्ण सावधानी  के साथ उपलब्ध करवाया जा रहा है। सोमवार को बी.एससी अंतिम सेमेस्टर  के विभिन्न विषयों के एवं  एम.बी.ए. अंतिम सेमेस्टर के विद्यार्थियों के लिए आयोजित परीक्षा की पहली पारी में कुल 388 परीक्षार्थियों में से 84.27 प्रतिशत उपस्थिति के साथ 327 परीक्षार्थी एवं दूसरी पारी में कुल 225 परीक्षार्थियों में से 86.66 प्रतिशत उपस्थिति के साथ 195 परीक्षार्थी शामिल हुए। राज्य सरकार के निर्देशानुसार कोविड-19 महामारी के कारण अगर कोई कोरोना संक्रमित, कन्टेनमेंट जोन के विद्यार्थी एवं राज्य से बाहर गए हुए विद्यार्थी इस परीक्षा में सम्मिलित नहीं हो पाते हैं। उनके लिए परीक्षाएं अगले सेमेस्टर साथ आयोजित की जाएंगी, ताकि कोई विद्यार्थी परीक्षाओं से वंचित ना रह जाए।

About the author

Maheka Sansar

Maheka Sansar

Breaking News

prev next

Advertisements

E- Paper

Advertisements

Our Visitor

1360711

Advertisements