COVID-19 ताज़ा खबर देश-दुनिया स्वास्थ्य

डोनाल्ड ट्रंप के कोरोना संक्रमित होते ही अलर्ट पर अमेरिका, परमाणु हमले वाला प्लान लॉन्च

Nuclear Doomsday Planes and E-6B Mercury: अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव से एक महीने पहले ही डोनाल्ड ट्रंप और उनकी पत्नी मेलानिया कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। इस कारण अमेरिकी रक्षा मंत्रालय ने अलर्ट जारी करते हुए देश के दोनों किनारों पर न्यूक्लियर डूम्सडे प्लान को लॉन्च कर दिया है।

वॉशिंगटन। अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव से एक महीने पहले ही डोनाल्ड ट्रंप और उनकी पत्नी मेलानिया कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। इस कारण अमेरिकी रक्षा मंत्रालय ने अलर्ट जारी करते हुए देश के दोनों किनारों पर न्यूक्लियर डूम्सडे प्लान को लॉन्च कर दिया है। जब भी ऐसी परिस्थिति बनती है कि अमेरिकी राष्ट्रपति से सार्वजनिक रूप से कोई संपर्क नहीं किया जा सकता तब इस प्रोग्राम को देश की सुरक्षा के लिए लॉन्च कर दिया जाता है। इसके जरिए देश के दुश्मनों को चेतावनी भी दी जाती है कि अगर उनके तरफ से कोई भी हरकत की गई तो इसका मुंहतोड़ जवाब दिया जाएगा।

अमेरिका के परमाणु कमांड पोस्ट हैं ये प्लेन
इस प्लान के तहत अमेरिका के आसमान में दो E-6B Mercury प्लेन लगातार गश्त लगा रहे हैं। ये जहाज अमेरिका के हवाई परमाणु कमांड पोस्ट हैं। बोइंग 707 विमान के चार इंजन वाले ये प्लेन अपने हॉईटेक कम्यूनिकेशन डिवाइसेज की मदद से यूएस नेवी के ओहियो-क्लास परमाणु बैलिस्टिक-मिसाइल पनडुब्बियों की कमान से सीधे संपर्क में होते हैं।

ट्रंप के संक्रमित होने के बाद से दो प्लेन लगा रहे गश्त
यूएस नेवी के पास इस तरह के 16 E-6B Mercury प्लेन हैं। इनमें से एक हमेशा अमेरिकी आसमान में उड़ान भरता रहता है। पहले ऐसा कभी नहीं सुना गया कि इस श्रेणी के दो प्लेन एक साथ देश के दोनों छोर पर उड़ान भर रहे हैं। लेकिन, शुक्रवार को जैसे ही डोनाल्ड ट्रंप के कोरोना वायरस संक्रमित होने की पुष्टि हुई वैसे ही अमेरिकी आसमान में ऐसे दो प्लेन उड़ान भरते हुए देखे गए।

परमाणु हमले का आदेश दे सकते हैं ये प्लेन
अगर अमेरिका पर इस दौरान कोई हमला होता है तो ये E-6B Mercury प्लेन सीधे ओहियो-क्लास परमाणु बैलिस्टिक-मिसाइल पनडुब्बियों को आदेश जारी करेंगे। जिसके बाद इन पनडुब्बियों से दुश्मन देश के सैन्य ठिकानों या महत्वपूर्ण शहरों को निशाना बनाकर परमाणु मिसाइल दागी जा सकती है। इसमें लॉन्ग रेंज बैलिस्टिक मिसाइल और शार्ट रेंज बैलिस्टिक मिसाइल दोनों होती हैं। ये पनडुब्बियां दुनियाभर के अलग-अलग ठिकानों पर गुप्त रूप से तैनात हैं।

अमेरिकी ओपन सोर्स इंटेलिजेंस ने लगाया पता
अमेरिकी ओपन-सोर्स इंटेलिजेंस टिम होगन ने ट्वीट कर बताया कि ट्रंप के कोरोना संक्रमित होने की खबर के अगले मिनट ही दो E-6B Mercury प्लेन हवा में थे। उन्होंने प्लेन को ट्रैक करने वाले एक सार्वजनिक साफ्टेवर की मदद से इन विमानों का पता लगाया। इन विमानों की पहचान इनके ट्रांसपोंडर्स के जरिए की गई।

ट्रांसपोंडर ऑन कर चेतावनी दे रहा अमेरिका
ट्रांसपोंडर के जरिए ही किसी भी विमान को ट्रैक किया जाता है, इसलिए अधिकतर सैन्य विमान उड़ान भरते समय खुद को ट्रैकिंग से बचाने के लिए इसे बंद कर देते हैं। लेकिन, अमेरिका के E-6B Mercury विमानों ने अपने ट्रांसपोंडर्स को बंद नहीं किया। इससे साफ संकेत मिलता है कि वे दुश्मनों को सीधी चेतावनी दे रहे हैं कि हम हवा में हैं इसलिए कई हमले की हिमाकत न करे।

About the author

Maheka Sansar

Maheka Sansar

Breaking News

prev next

Advertisements

E- Paper

Advertisements

Our Visitor

1360717

Advertisements