राजस्थान

नगर निगम चुनाव-सुप्रीम कोर्ट का हाईकोर्ट के फैसले पर रोक लगाने से इनकार,एक हफ्ते में नोटिफिकेशन जारी करने के आदेश

राजस्थान हाईकोर्ट के फैसले को चुनौती देने वाली राज्य सरकार की एसएलपी पर गुरुवार को सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई हुई।

जयपुर, जोधपुर, कोटा नगर निगम चुनाव:सुप्रीम कोर्ट का हाईकोर्ट के फैसले पर रोक लगाने से इनकार, एक हफ्ते में चुनाव का नोटिफिकेशन जारी करने के आदेश

सुप्रीम कोर्ट का हाईकोर्ट के फैसले पर रोक लगाने से इनकार, एक हफ्ते में चुनाव का नोटिफिकेशन जारी करने के आदेश|राजस्थान,Rajasthan - Dainik Bhaskar

राज्य सरकार की ओर से अदालत में अर्जी देकर चुनाव कराने के 31 दिसंबर तक का समय मांगा गया था।

  • राजस्थान हाईकोर्ट के फैसले को चुनौती देने वाली राज्य सरकार की एसएलपी पर गुरुवार को सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई हुई।

जयपुर, जोधपुर और कोटा की नव सृजित छह नगर निगमों के चुनाव 31 अक्टूबर तक कराए जाने के राजस्थान हाईकोर्ट के फैसले को चुनौती देने वाली राज्य सरकार की याचिका (एसएलपी) पर गुरुवार को सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई हुई। इसमें सुप्रीम कोर्ट में हाईकोर्ट के फैसले पर रोक लगाने से इनकार कर दिया। कोर्ट ने चुनाव की तारीखों को टालने से मना कर दिया गया है।

कोर्ट ने चुनाव 1 हफ्ते में नोटिफाई करने के लिए कहा है। इसमें चुनाव आयोग मामले की तारीख तय करेगा। चुनाव 31 अक्टूबर से आगे जाने पर चुनाव आयोग को हाईकोर्ट जाने की छूट दी गई है। गौरतलब है कि हाईकोर्ट ने अपने आदेश में कहा था कि जयपुर, जोधपुर, कोटा नगर निगम में 31 अक्टूबर तक चुनाव कराने होंगे।

हाईकोर्ट तीन बार बढ़ा चुका समय-सीमा

हाईकोर्ट ने 18 मार्च को आदेश जारी कर जयपुर, जोधपुर व कोटा की इन छह नगर निगमों के चुनाव 17 अप्रैल से आगामी छह सप्ताह के लिए स्थगित कर दिए थे। अदालत ने 28 अप्रैल को इस अवधि को एक बार फिर 31 अगस्त तक बढ़ा दिया गया था। इसके बाद हाईकोर्ट ने राज्य सरकार के प्रार्थना पत्र पर हाईकोर्ट ने 31 अक्टूबर तक चुनाव कराए जाने के लिए कहा था।

कलेक्टर बोले- हम तैयारी में जुटे, पोलिंग बूथ बढ़ाएंगे, 2 फेज में चुनाव की सिफारिश

जयपुर नगर निगम चुनाव के लिए जिला निर्वाचन विभाग ने पूरी तैयारी कर ली है। कलेक्टर अंतर सिंह नेहरा का कहना है कि हमारी चुनावी तैयारी पूरी है। आयोग के आदेशानुसार चुनाव करवा दिए जाएंगे। नेहरा का कहना है कि हाईकोर्ट में याचिका खारिज होने के बाद से ही चुनावों को लेकर सक्रिय हो गए थे। आरक्षण लॉटरी निकाली जा चुकी है। मतदाता सूची प्रकाशित हो गई। मतदानकर्मियों की सूची भी तैयार हैं। वहीं, ईवीएम भी पंचायत चुनाव समाप्त होते ही तैयार कर लेंगे।

कोरोना है इसलिए 2 फेज में चुनाव चाहते हैं

शहर में कोरोना संक्रमण को देखते हुए जिला निर्वाचन ने निगम के चुनाव दो फेज में करने का निर्वाचन आयोग को सुझाव दिया है। पिछले दिनों राज्य निर्वाचन आयोग ने जयपुर जिला प्रशासन से राय मांगी थी। शहर में 21लाख 61 हजार 719 मतदाता है। इनमें नगर निगम ग्रेटर में 12 लाख 28 हजार 911 और हेरिटेज में 9 लाख 32 हजार 808 मतदाता हैं।

1700 बूथ बढ़ाएंगे, 8500 कर्मचारी ज्यादा लगाएंगे

कलेक्टर नेहरा का कहना है कि कोरोना संक्रमणकाल में चुनाव के दौरान सोशल डिस्टेसिंग की पालना की जाएगी। इसके लिए 1700 मतदान केंद्र बढ़ाने और मतदानकर्मियों की संख्या 8500 की बढ़ोतरी करनी होगी। आयोग के अनुसार एक मतदान केंद्र पर 850 वोटर होंगे। जयपुर निगम क्षेत्र में 1941 मूल मतदान केंद्र हैं। इनके अलावा 1700 सहायक मतदान केंद्र और बनाए जाएंगे। इसमें नगर निगम ग्रेटर में 950 और नगर निगम हेरिटेज में 750 सहायक मतदान केंद्र शामिल है।

About the author

Maheka Sansar

Maheka Sansar

Breaking News

prev next

Advertisements

E- Paper

Advertisements

Our Visitor

1360714

Advertisements