जयपुर ताज़ा खबर राजनीति राजस्थान

विधायकों की चिट्ठी पर क्या बोले भाजपा के राजेंद्र राठौड़

जयपुर। राजस्थान भाजपा में चल रही गुटबाजी और विधायकों की उपेक्षा को लेकर लिखे गए पत्र के मामले में सियासत गर्मा गई है. हालांकि, उपनेता राजेंद्र राठौड़ आरोपों को सिरे से खारिज करते हैं. वे यह भी कहते हैं कि इस प्रकार का पत्र पार्टी की राजनीतिक संस्कृति से परे है. राठौड़ ने कहा कि इस मसले में कोर कमेटी की बैठक में भी चर्चा करेंगे…इस मामले में विपक्ष के उप नेता राजेंद्र राठौड़ ने कहा कि मुझे खुद समाचार पत्र के जरिए इससे पत्र की जानकारी हुई. मैं खुद आश्चर्यचकित हूं कि इस मामले में जिन विधायकों के नाम सामने आए हैं उनमें से 80 फीसदी लोगों को किसी न किसी रूप में सदन में बोलने का मौका मिला है…राजेंद्र राठौड़ ने यह भी कहा कि इस पूरे मामले और घटनाक्रम की जांच का अधिकार पार्टी प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनिया को है और वह अपने स्तर पर इस पूरे मामले की जांच भी करवाएंगे. राठौड़ ने कहा कि 23 फरवरी को होने वाली प्रदेश कोर कमेटी की बैठक में भी इस मामले को रखेंगे और जानना चाहेंगे कि आखिर इस प्रकार का पत्र क्यों और कहां लिखा गया. राजेंद्र राठौड़ ने कहा कि हम हर मंगलवार को विधायक दल की बैठक करते हैं और वहां पर सभी विधायकों के सुझाव भी लिए जाते हैं, लेकिन अब तक कभी ऐसी कोई बात सामने नहीं आई…राठौड़ से पूछा गया कि पत्र के जरिए निशाने पर आप और नेता प्रतिपक्ष हैं तो राठौड़ ने कहा कि मैं नहीं समझता कि यह कोई लड़ाई या संघर्ष का विषय है. राठौड़ ने कहा कि किसी भी कारण से किसी विधायक के मन में कोई बात आ गई हो तो हम उनसे चर्चा करेंगे और सारी बातें समझकर उसके समाधान की कोशिश भी करेंगे.

Breaking News

prev next

Advertisements

E- Paper

Advertisements

Our Visitor

1454463

Advertisements