जयपुर ताज़ा खबर दिल्ली राजनीति राजस्थान

राजस्थान में भाजपा को एक करने आए जेपी नड्डा, और दे गए सफलता का यह मंत्र

जयपुर। भाजपा प्रदेश कार्यसमिति की बैठक के उद्घाटन सत्र को बिड़ला आॅडिटोरियम के ‘‘भैरोंसिंह शेखावत सभागार’’ में सम्बोधित करते हुए भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जे.पी. नड्डा ने कहा कि वीरों की भूमि राजस्थान को श्रद्धापूर्वक नमन करता हूँ। 1991 में राष्ट्रीय कार्यसमिति की बैठक में मेरा आना हुआ था, उस समय पार्टी का कोई नामलेवा नहीं था, उस दौर में स्व.श्री भैरोंसिंह शेखावत ने जनसंघ का प्रदेश के गाँव-ढ़ाणियों में दीया जलाने का ऐतिहासिक कार्य किया।

नड्डा ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के कुशल नेतृत्व में देशभर में कमल खिल रहा है, राजस्थान में भी कई बार कमल खिल चुका है और आगे भी प्रचण्ड रूप से कमल खिलेगा, ऐसा मुझे पूर्ण विश्वास है, जिसकी वजह प्रदेश भाजपा के कर्मशील एवं जुझारू प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनियां और उनकी प्रदेश इकाई टीम जमीनी तौर पर पार्टी को मजबूत करने के लिए कार्य कर रही है।

नड्डा ने कहा कि प्रदेश में संगठन द्वारा शिक्षण और प्रशिक्षण का कार्य बहुत अच्छा चल रहा है। भाजपा की सबसे बड़ी मजबूती और खूबसूरती है कि कैडरबेस पार्टी है। सशक्त मण्डल, सक्रिय बूथ और सक्रिय पन्ना प्रमुख ये तीन लक्ष्य 2021 तक पूरे करने हंै। इसके अलावा पार्टी के स्थापना दिवस 06 अप्रैल को सभी मण्डल सशक्त हो जायें, इसके लिए हमको चिंता करनी है, इसके लिए हमें कृत संकल्पित होकर कार्य करना है, पं. दीनदयाल उपाध्याय की जयंती 25 सितम्बर तक हमारे सभी बूथों का गठन पूरा होना चाहिए और इस बात का विशेष ध्यान रखना है कि सभी बूथों पर महिला, युवा, एस.सी., एस.टी., ओबीसी, किसान, अल्पसंख्यक इत्यादि सभी तबकों को साथ जोड़कर यह कार्ययोजना हमें जमीन पर मजबूती से उतारनी है।

नड्डा ने कहा कि अटल बिहारी वाजपेयी की जयंती तक हर बूथ पर हमें पन्ना प्रमुख बनाकर सक्रिय करने हैं। उन्होंने कहा कि गुजरात की सूरत लोकसभा सीट भाजपा ने सबसे बड़े मतों से जीती, यह सम्भव हुआ बूथ कार्य संरचना से, ऐसे ही हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा लोकसभा सीट दूसरे नम्बर की सर्वाधिक मतों से जीतने वाली सीट है।

नड्डा ने कहा कि जनता चाहती है, जनता का मन होता है, लेकिन जनता जो चाहती है उसे इवीएम ड़ालने का काम भाजपा करती है। नड्डा ने पाली जिले में पार्टी की मजबूती के लिए किये जा रहे नवाचारों की भी प्रशंसा की और उन्होंने पूरे प्रदेश में इसी तरह पार्टी को मजबूत करने का कार्यकर्ताओं एवं पदाधिकारियों से आहृान किया।

नड्डा ने पार्टी पदाधिकारियों, सांसदों, विधायकों एवं अन्य जनप्रतिनिधियों से आहृान करते हुए कहा कि प्रवास के दौरान पार्टी की मजबूती के लिए रात्रि विश्राम भी करने की बहुत आवश्यकता है, साथ ही पदाधिकारी एवं जनप्रतिनिधि समय-समय पर खुद का विश्लेषण भी करें, जिससे पार्टी को और अधिक मजबूत किया जा सके। हमें यह भी सोचने की जरूरत है कि समय के साथ पार्टी के लिए हमारी उपयोगिता, स्वीकार्यता कितनी है और ‘‘एकला चलो रे’’ से हटकर हमें सबको साथ लेकर चलने की आवश्यकता है, जिससे पार्टी को प्रदेश में भी अभेद्य एवं अजेय बनाया जा सके।

नड्डा ने कहा कि लीडर अपने एक्शन से बनते हैं और हमारी स्वीकार्यता तभी विकसित होती है, जब हम सबको साथ लेकर चलें एवं इसी दिशा में प्रदेश नेतृत्व मजबूती से कार्य कर रहा है, जिसको लेकर हमें बहुत खुशी है। हाल ही में हुए पंचायतीराज चुनावों में भी भाजपा को शानदार जीत मिली, इससे स्पष्ट है कि पार्टी प्रदेश में गाँव और शहर दोनों में मजबूत हो रही है।

नड्डा ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में केन्द्र सरकार ने कोरोनाकाल के दौरान शानदार प्रबंधन किया, जिसकी बदौलत देशभर में सफल लाॅकडाउन रहा और हमारे देश के वैज्ञानिकों ने 2 स्वदेशी वैक्सीन विकसित कर ना केवल भारत को कोरोना से लड़ने में मजबूती दी बल्कि दुनियाभर के 150 से अधिक देश वैक्सीन को लेकर हमसे उम्मीद कर रहे हैं, जो मानवता के हित में भारत सरकार पूरा करने के लिए प्रतिबद्ध है।

नड्डा ने कहा कि कोरोनाकाल के दौरान मोदी सरकार ने 80 करोड़ लोगों को दाल, चावल इत्यादि जरूरतमंद राशन सामग्री पहुँचायी, 20 करोड़ बहनों को तीन महीने तक आर्थिक मदद पहुँचाई, शानदार कोरोना प्रबंधन के कारण यूएनओ और डब्ल्यूएचओ ने भारत की प्रशंसा की। इसके अलावा आत्मनिर्भर भारत आर्थिक अभियान के माध्यम से मोदी सरकार देश के हर वर्ग की आर्थिक उन्नति के लिए ये कार्य कर रही है। साथ ही मोदी सरकार लोकल फाॅर वोकल को भी बढ़ावा दे रही है, जिससे देश के विभिन्न राज्यों के उत्पादों को अच्छा बाजार मिल रहा है, ऐसे में जयपुर के हैण्डीक्राफ्ट और प्रदेश के विभिन्न जिलों के खास उत्पादों को भी बढ़ावा दिये जाने की आवश्यकता है, जिसके लिए मोदी सरकार कटिबद्ध है।

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा का स्वागत करते हुए पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे

नड्डा ने कहा कि मोदी सरकार पं. दीनदयाल उपाध्याय के अन्त्योदय को जमीन पर उतारकर अंतिम पायदान के व्यक्ति को जनकल्याणकारी योजनाओं का लाभ दिया जा रहा है और राजस्थान में भैरोंसिंह शेखावत ने भी गरीब को गणेश मानकर अन्त्योदय के विचार को साकार किया। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी का लक्ष्य ‘‘सबका साथ, सबका विकास और सबका विश्वास’’ यह कोई कागजी नारा नहीं है, यह मोदी सरकार का आर्थिक माॅडल है, जिसके माध्यम से देश के करीब 55 करोड़ लोगों को 5-5 लाख रूपये का हैल्थ कवर दिया जा रहा है, जो एक आम आदमी के लिए बहुत मददगार साबित हो रहा है। इसके अलावा पीएम किसान सम्मान निधि, प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना, प्रधानमंत्री आवास योजना, उज्जवला योजना, नीम कोटेड यूरिया, जन-धन खाते, स्वच्छ भारत अभियान इत्यादि विभिन्न जनकल्याणकारी योजनाओं से देश के हर वर्ग को स्वाभिमान के साथ मजबूत किया जा रहा है।

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष का स्वागत करने एयरपोर्ट पहुंचे भाजपा के वरिष्ठ नेता

नड्डा ने कहा कि मोदी सरकार ने माताओं और बहनों को सम्मान देने के लिए 11 करोड़ इज्जत घर बनवाये और राजस्थान में 75 लाख इज्जत घर बनवाने का ऐतिहासिक कार्य किया। इसके अलावा देश के 18 हजार गाँवों जो अंधेरे में थे उन तक बिजली पहुँचाने का कार्य किया और अनेक जनकल्याणकारी एवं बुनियादी विकास कार्य चल रहे हैं।

नड्डा ने कहा कि कांग्रेस इस समय सŸाा पाने की फ्रस्टेªशन में है कि सŸाा पाने के लिए कांग्रेस कुछ भी वादा कर सकती है, लेकिन उसे पूरा नहीं करेगी। इस बात के पुख्ता प्रमाण राजस्थान में ही देख लीजिए कि राहुल गाँधी और अशोक गहलोत ने किसानों से सम्पूर्ण किसान कर्जमाफी का वादा किया था। राहुल गाँधी ने तो यह तक कह दिया था कि प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनने के 10 दिन के अंदर पूरा कर्जा माफ कर देंगे, लेकिन गहलोत सरकार के सवा दो साल से अधिक समय व्यतीत हो जाने के बाद भी यह वादा आज तक पूरा नहीं हुआ।

नड्डा ने कहा कि मोदी सरकार के तीनों कृषि कानून किसानों के हित में हंै, किसानों को कहीं भी फसल बेचने की आजादी देते हैं, किसान को स्वयं ही अपनी फसल की कीमत तय करने की आजादी देते हैं और काँट्रेक्ट फार्मिंग के माध्यम से किसान को आर्थिक मजबूती मिलेगी, लेकिन कांग्रेस किसानों को गुमराह करने का षडयंत्र कर रही है। जिन कृषि सुधार कानूनों को लेकर कांग्रेस ने अपने घोषणा पत्र में वादा किया था अब वही कांग्रेस झूठ बोल रही है। पंजाब में कांग्रेस की सरकार ने काँट्रेक्ट फार्मिंग शुरू की थी और अब ये पलट रहे हैं। मोदी सरकार किसानों से कई दौर की सकारात्मक वार्ता कर चुकी है, आगे भी वार्ता के लिए तैयार है, जो भी सकारात्मक सुझाव आयेंगे, उसके आधार पर कानूनों में सुधार करने के लिए भी सरकार तैयार है।

नड्डा ने कहा कि राजस्थान में दलित, महिला एवं बच्चियों पर अपराध बढ़ रहे हैं, दलितों पर अत्याचार के मामले में प्रदेश दूसरे नम्बर है और नेशनल क्राइम रिपोर्ट ब्यूरो के मुताबिक दुष्कर्म के मामलों में प्रदेश पहले नम्बर पर है एवं भ्रष्टाचार में भी अव्वल है। वर्तमान गहलोत सरकार का सुशासन पर कोई ध्यान नहीं है, सिर्फ कुशासित राज्य बनाने पर ध्यान है। गहलोत सरकार के लोकलुभावन और कागजी बजट को लेकर भाजपा को प्रदेश के गाँव-ढ़ाणियों तक जाकर यह बताने की जरूरत है कि पिछले दो बजटों में जो घोषणा की थी वो भी अभी कागजों में हंै तो ये नई घोषणाएं कैसे पूरी हो पायंेगी, यह सरकार सिर्फ वादों के नाम पर झूठ बोलती है।

भाजपा प्रदेशाध्यक्ष डाॅ. सतीश पूनियां ने प्रदेश कार्यसमिति की बैठक को सम्बोधित करते हुए कहा कि प्रदेश की गहलोत सरकार दमन पर उतारू है। हमारे सैकड़ों कार्यकर्ताओं पर मुकदमे दर्ज हैं, कोटा में बीएमएस के कार्यकर्ता पर हमले, जोधपुर एवं जयपुर में एबीवीपी कार्यकर्ताओं पर हमले, प्रदेश में बजरी माफियाओं का आतंक, लूट, हत्या, डकैती के बढ़ते मामले, ऐसे प्रदेश के हालात बन चुके हैं।

डाॅ. पूनियां ने कहा कि विपक्ष में रहते हुए कांग्रेस की सŸाा से संघर्ष कर 2.41 करोड़ मतदाताओं के पंचायतीराज चुनाव में 21 में से 14 जिला परिषदों में भाजपा के बोर्ड बने। विपक्ष में रहते हुए पंचायतीराज चुनाव में भाजपा की यह अब तक की सबसे बड़ी जीत है और सŸाारूढ़ कांग्रेस को करारी शिकस्त मिली और निकाय चुनावों में भी भाजपा का शानदार प्रदर्शन रहा, वहीं कांग्रेस की 90 में से 71 निकायों में हार हुई। उन्होंने कहा कि एक साधारण किसान परिवार में जन्मे मुझ जैसे एक सामान्य कार्यकर्ता को प्रदेशाध्यक्ष बनाकर जो आशीर्वाद दिया है, मेरे जैसे कार्यकर्ता के लिए यह बहुत बड़ा सम्मान है, इसके लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, राष्ट्रीय अध्यक्ष जे.पी. नड्डा, गृहमंत्री अमित शाह एवं समस्त कार्यकर्ताओं का हृदय से आभार एवं अभिनंदन करता हूँ।

डाॅ. पूनियां ने कहा कि प्रदेश कार्यसमिति की यह बैठक बिड़ला आॅडिटोरियम के ‘‘भैरोंसिंह शेखावत सभागार’’ में आयोजित हो रही है, ऐसे अजातशत्रु बाबोसा भैरोंसिंह शेखावत ने राजस्थान को बीमारू राज्य से बाहर निकालकर विकसित राज्यों की श्रेणी में लाकर खड़ा किया और भैरोंसिंह ने ही अन्त्योदय के विचार को सरकार की योजनाओं के माध्यम से गाँव-ढ़ाणियों तक पहुँचाने का बीड़ा उठाया, उसको मोदी सरकार देशभर में जनकल्याणकारी योजनाओं के माध्यम से पहुँचा रही है और प्रदेश में भाजपा की सरकार बनने पर इस कार्य को हम भी आगे बढ़ाने के लिए संकल्पित हैं।

डाॅ. पूनियां ने कहा कि 1993 में जे.पी. नड्डा की जनादेश यात्रा कोटा में आयोजित हुई, उस दौरान पहली बार भाजपा की प्रदेश में प्रचण्ड बहुमत की सरकार बनीं और हम सभी कार्यकर्ताओं को पूर्ण विश्वास है कि अब पाँच राज्यों में भी प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी एवं जे.पी. नड्डा के कुशल नेतृत्व में भाजपा की सरकारें बनेंगी। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी और नड्डा को हम विश्वास दिलाते हैं कि प्रदेश के आगामी चारों उपचुनावों में सभी सीटों पर भाजपा की शानदार जीत दर्ज होगी और आपको पूर्ण विश्वास दिलाते हैं कि हम सभी कार्यकर्ता अथक परिश्रम से राजस्थान में भाजपा को अभेद्य और अजेय बनायेंगे। साथ ही बूथ, मण्डल, शक्ति केन्द्र एवं पन्ना इकाईयों को निश्चित समयावधि में पूरी सक्रियता के साथ मजबूत करेंगे।

डाॅ. पूनियां ने कहा कि मोदी सरकार के कल्याणकारी कृषि कानूनों के बारे में किसानों को जागरूक करने के लिए 5 हजार से अधिक चैपालें हम कर चुके हैं और आगे भी कार्यक्रम चल रहे हैं। उन्होंने कहा कि सम्पूर्ण किसान कर्जमाफी के नाम पर राहुल गाँधी और अशोक गहलोत ने किसानों के साथ वादाखिलाफी की, इसके अलावा लाखों नौकरियों का वादा कर युवाओं के साथ भी धोखा किया, वर्तमान में प्रदेश की बेरोजगारी दर 28.2 प्रतिशत है।

डाॅ. पूनियां ने कहा कि 6 से 14 मार्च तक प्रदेशभर में भाजपा जनविरोधी गहलोत सरकार के खिलाफ उपखण्ड स्तरों तक आंदोलन करेगी और गहलोत सरकार को घुटने टेकने के लिए मजबूर करेगी एवं कोरोना गाइडलाइन समाप्त होने पर जे.पी. नड्डा के नेतृत्व में लगभग 2 लाख लोगों की जनसभा कर गहलोत सरकार के खिलाफ जयपुर में मोर्चा खोलेंगे। प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में भगवान श्रीराम मन्दिर का अयोध्या में भव्य निर्माण होने जा रहा है, जिससे असंख्य भारतीयों का सपना साकार होने जा रहा है। इसके अलावा अनुच्छेद 370 खत्म कर जम्मू-कश्मीर में आतंकियों की छाती पर तिरंगा फहराने का भी ऐतिहासिक कार्य किया गया, इसके लिए मोदी और अमित शाह के साहस एवं दृढ़ संकल्प का आभार एवं अभिनंदन।

डाॅ. पूनियां ने अपने सम्बोधन में प्रदेश में पार्टी को सींचने और मजबूत करने वाले भैरोंसिंह शेखावत, सुन्दर सिंह भण्डारी, जे.पी. माथुर, ललित किशोर चतुर्वेदी, रामदास अग्रवाल, रघुवीर सिंह कौशल, भंवरलाल शर्मा, हरिशंकर भाभड़ा इत्यादि को श्रद्धापूर्वक याद किया।

प्रस्ताव सत्र को नेता प्रतिपक्ष गुलाबचन्द कटारिया, केन्द्रीय मंत्री अर्जुनराम मेघवाल, उपनेता प्रतिपक्ष राजेन्द्र राठौड़, राज्यसभा सांसद किरोड़ीलाल मीणा ने सम्बोधित कर अनुमोदन किया, केन्द्रीय मंत्री गजेन्द्र सिंह शेखावत ने आत्मनिर्भर विषय पर सम्बोधित किया, केन्द्रीय मंत्री कैलाश चैधरी ने किसान कल्याण विधेयक पर सम्बोधित किया, राष्ट्रीय महामंत्री एवं प्रदेश प्रभारी अरूण सिंह एवं डाॅ. सतीश पूनियां ने समापन सत्र को सम्बोधित कर पार्टी की रीति-नीति को प्रदेश के जन-जन तक पहुँचाने और पार्टी की मजबूती के लिए कार्य करने का आहृान किया। इससे पहले प्रदेश संगठन महामंत्री चन्द्रशेखर ने संगठन सत्र को सम्बोधित किया, विशेष वृŸा संगठन एवं सेवा कार्य सत्र को जिनेन्द्र शास्त्री ने सम्बोधित किया, कोरोना में चिकित्सा सेवा विषय को विधायक ज्ञानचन्द पारख ने सम्बोधित किया, प्रवासी सेवा विषय को विषय पर भरतपुर जिलाध्यक्ष डाॅ. शैलेष सिंह ने सम्बोधित किया।

Breaking News

prev next

Advertisements

E- Paper

Advertisements

Posts

Our Visitor

1486929

Advertisements