मिलावटी अब हो जाएं सावधान क्योंकि चिकित्सा मंत्री है अब गजेंद्र सिंह खींवसर - Maheka Sansar

मिलावटी अब हो जाएं सावधान क्योंकि चिकित्सा मंत्री है अब गजेंद्र सिंह खींवसर

जोधपुर में घी की फैक्ट्री पर सीआईडी सीबी ने बड़ी कार्रवाई की है, कामचोर फूड इंस्पेक्टरो की अब खैर नहीं, जो बंधी लेकर मिलावटियो को दे रहे है शह 

जोधपुर। बोरानाडा क्षेत्र की एक फैक्ट्री में करीब 8000 लीटर घी और 8000 लीटर पॉम ऑयल को नष्ट कर दिया गया इन सभी का सैंपल भी लिया गया है गुरुवार की रात को अतिरिक्त महानिदेशक पुलिस दिनेश एम एन के निर्देशन में जयपुर सीआईडी सीबी टीम ने जोधपुर के बोरानाडा क्षेत्र में संचालित होने वाली धनुश्री फूड प्रोडक्ट नाम की फैक्ट्री में छापा मारा और मौके पर धनुश्री फूड प्रोडक्ट और भारत फूड प्रोडक्ट के नाम से करीब 8000 किलोग्राम घी व 8000 किलोग्राम पाम ऑयल व दूध का क्रीम बरामद हुआ इन सभी वस्तुओं से बदबू आ रही थी जिससे टीम को नकली होने की आशंका हुई जिसके जांच हेतु सैंपल लेकर सारा सामान जप्त किया गया है मौके पर मिले बदबूदार घी व मिल्क क्रीम को रसद विभाग की टीम के सहयोग से नष्ट करवाया गया इसके साथ ही फैक्ट्री से अन्य ब्रांड के पैकिंग सामग्री भी मिली थी जिससे यह लग रहा है कि इसी फैक्ट्री में बड़े-बड़े ब्रांड के घी की नकली पैकिंग कर सप्लाई की जा रही थी।

एडीजी दिनेश एम एन के निर्देशन में हुई कार्रवाई

जोधपुर की इस फैक्ट्री में नकली घी बनने की खबर मुखबिर से मिली थी इसके बाद से ही नजर रखी जा रही थी सूचना पक्की होने के बाद आईजी क्राइम प्रफुल्ल कुमार एवं एडिशनल एसपी आसाराम चौधरी के सुपरविजन तथा इंस्पेक्टर सुभाष सिंह तंवर के नेतृत्व में टीम गठित की गई जिसमें हेड कांस्टेबल महेश सोमरा, रविंद्र सिंह व राकेश जाखड़ साथ ही कांस्टेबल नरेश, व चालक सुरेश को आ सूचना संकलन के लिए रवाना किया गया था यहां टीम ने विवेक विहार थाना पुलिस, डीएफओ व रसद विभाग के साथ मिलकर इस फैक्ट्री की कार्रवाई की।

गजेंद्र सिंह खींवसर के मंत्री बनते ही हुई कार्यवाही, दिया साफ संदेश

प्रदेश के चिकित्सा मंत्री गजेंद्र सिंह खींवसर नकली खाद्य पदार्थ बेचने वालों को बख्शने के मूड में नहीं है इसी के चलते मंत्री बनते ही इतनी बड़ी कार्यवाही को अंजाम दिया गया है इसके साथ ही ये साफ संदेश है कि चिकित्सा मंत्री गजेंद्र सिंह खींवसर ऐसे लोगों को नहीं छोड़ेंगे जो जनता की सेहत से खिलवाड़ कर रहे हैं साथ ही खाद्य विभाग को भी पाबंद किया जाएगा जिससे नकली घी, तेल या कोई भी नकली खाद्य पदार्थ बेच रहा है उनको सलाखों के पीछे भेजा जा सके और सख्त से सख्त कार्यवाही की जायेगी।

अब भी कई सवाल उठ रहे है कि कौन दे रहा था इस फैक्ट्री को शह

कुछ दिनों पूर्व हमने यह खबर प्रकाशित की थी की खाद्य विभाग के फूड इंस्पेक्टर नकली खाद्य पदार्थ बेचने वालों से बंधी ले रहे हैं इसी के चलते ऐसी मौत की फैक्ट्री को शह मिल रही थी और जनता को सेहत की बजाय बड़ी-बड़ी बीमारियां मिल रही है जिसका श्रेय खाद्य विभाग को जाता है अब सवाल यह उठता है कि क्या खाद्य विभाग को इसकी भनक तक नहीं थी और ऐसी कितनी फैक्ट्रियां हैं जो नकली घी बनाकर लोगों की सेहत के साथ खिलवाड़ कर रही है एवं सवाल यह भी उठता है कि इस फैक्ट्री में बना घी बाजार में जा चुका है और बिक भी रहा होगा ऐसे में इस जहर को खाकर कितने लोग बीमार पड़ेंगे खाद्य विभाग की टीम इसके लिए क्या कर रही है जिसका जवाब मिलना बाकी है।