विभिन्न खाद्य पदार्थ के पांच सैंपल लिए, एक आरओ प्लांट को किया सीज

भीलवाड़ा। सरकार लगातार खाद्य पदार्थों की जांच कर रही है ताकि लोगों को शुद्ध खाद्य पदार्थ उपलब्ध हो सके और सरकार की मंशा पर विभाग खरा उतर सके, इसी के तहत शुद्ध आहार मिलावट पर वार अभियान के तहत मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉक्टर चेतन्य पुरी गोस्वामी के निर्देशन में गठित खाद्य सुरक्षा दल ने भीलवाड़ा शहर में अलग-अलग स्थान से पांच सैंपल लिए हैं।

यहां पर की गई कार्यवाही, लिए सैंपल

खाद्य सुरक्षा टीम ने पशुपतिनाथ वॉटर सप्लायर से पानी का सैंपल लिया, मैसेज कृष्णा कचोरी गंगापुर चौराहा से यूज्ड तेल का नमूना लिया, मेसर्स एसएसएस रेस्टोरेंट पांसल चौराहा से तेल का सैंपल लिया एवं शक्कर और मैदा के भी सैंपल लिए मेसर्स श्री राधे मिनरल वाटर प्लांट से पानी का सैंपल लिया और पानी के प्लांट को भी सीज किया गया। सभी सैंपल को जन स्वास्थ्य प्रयोगशाला अजमेर से जांच हेतु भिजवाया जाएगा रिपोर्ट मिलने पर खाद्य सुरक्षा एवं मानक अधिनियम 2006 के तहत विधिक कार्यवाही की जाएगी मोबाइल फुड टेस्टिंग प्रयोग शाला द्वारा शहर के विभिन्न स्थानों से 7 सैंपल की भी जांच की गई है।

शुद्ध आहार मिलावट पर वार अभियान के तहत संपूर्ण जिले में अनवरत रूप से कार्रवाई जारी रहेगी खाद्य कारोबारी को लाइसेंस बनाने, इसे उचित स्थान पर लगाकर रखना, तेल वह मसाले को खुले में नहीं बेचे, साफ सफाई रखना, मिठाई आदि ढककर रखना, पैकिंग मैटेरियल फूड ग्रेड श्रेणी का काम में लेने निरंतर प्रेरित किया जा रहा है। खाद्य सुरक्षा एवं मानक अधिनियम 2006 के प्रावधानों को उल्लंघन करने पर सजा व जुर्माने का प्रावधान है इसी के तहत आगे के कार्यवाही भी की जाएगी।