गुजरात से गंगानगर की बस को रुकवाकर 3200 किलो घी किया सीज

 वातुला ब्रांड, बंधन ब्रांड, अनुज ब्रांड का घी बरामद

बीकानेर। हेल्थ डिपार्टमेंट ने शुद्धता अभियान के चलते रविवार को एक बस रोककर उसमें रखा करीब तीन हजार किलो घी बरामद किया है। ये घी गुजरात के अहमदाबाद से बीकानेर होकर श्रीगंगानगर भेजा जा रहा था। विभाग के खाद्य सुरक्षा दल द्वारा बड़ी कार्यवाही करते हुए यात्री बस को रोककर ट्रांसपोर्ट में 3,100 किलो संदिग्ध घी को सीज करने की कार्यवाही की गई है। शुद्ध आहार मिलावट पर वार अभियान के अंतर्गत हुई इस कार्यवाही में घी के नमूने मंगलवार तक संग्रहित किए जाएंगे। मुखबिर से प्राप्त सूचना के आधार पर मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी

डॉ राजेश कुमार गुप्ता के नेतृत्व में खाद्य सुरक्षा अधिकारी भानु प्रताप सिंह गहलोत तथा श्रवण कुमार वर्मा रानी बाजार पुल के पास पहुंचे। यहां उन्होंने शर्मा ट्रेवल्स की एक बस को

रुकवाया जिसमें सूचना अनुसार 85 कार्टन में 1 हजार 225 किलो घी मिला। अनुज ब्रांड का यह घी अंजनी मार्केटिंग कंपनी गांधीनगर गुजरात से आया था। इसे श्रीगंगानगर के विशाल एंटरप्राइजेज फर्म को कुमावत ट्रांसपोर्ट कंपनी द्वारा अन्य वाहन से ट्रांसपोर्ट किया जाना था। खाद्य सुरक्षा दल

द्वारा इसे कुमावत ट्रेडिंग कंपनी बीछवाल के गोदाम पर उतरने के बाद गहन जांच की गई। डॉ गुप्ता ने बताया कि कुमावत ट्रेडिंग कंपनी के गोदाम पर इसके अतिरिक्त वातुला ब्रांड तथा

बंधन ब्रांड के घी भी पड़े थे। यह सभी श्रीगंगानगर के विभिन्न व्यापारियों को जाने थे। दूरभाष पर उनसे संपर्क किया गया।

परंतु उन्होंने तत्काल बीकानेर आने में असमर्थता जताई अतः समस्त कार्टन को मौके पर ही सील व सीज कर दिया गया। मंगलवार तक व्यापारियों की उपस्थिति में इन घी कार्टन से खाद्य नमूने संग्रहित कर जांच हेतु भेजा जाएगा। तब तक यह माल कुमावत ट्रेडिंग कंपनी की जिम्मेदारी पर वहां रहेगा। डॉ गुप्ता ने बताया कि मुख्यमंत्री भजनलाल शर्मा द्वारा आमजन को शुद्ध खाद्य उपलब्ध कराने को लेकर विशेष जोर दिया जा रहा है। ऐसे में प्राप्त सूचनाओं पर भी तुरंत कार्यवाही की जा रही है। यही नहीं मुखबिर योजना के अंतर्गत सूचना सही पाए जाने पर आमजन को 51 हजार रुपए के पुरस्कार का भी प्रावधान है।