आपके घर गैस गीजर है तो ये खबर जरूर पढ़े, हिसार में गैस लीक होने से दो बच्चो की मौत - Maheka Sansar

आपके घर गैस गीजर है तो ये खबर जरूर पढ़े, हिसार में गैस लीक होने से दो बच्चो की मौत

हिसार। हरियाणा के हिसार में गैस लीक होने की वजह से 2 सगे भाइयों की मौत हो गई। दोनों बच्चे गुरुग्राम में चाचा की शादी में जाने के लिए कटिंग करवाकर आए थे। दोनों एक साथ ही बाथरूम में नहाने चले गए। यह वाक्या तिलक श्याम वाली गली का है। मृतकों की पहचान तिलक श्याम गली में रहने वाले सोहम (11) और माधव (8) के रूप में हुई है।
बाथरूम में गैस लीक होने के कारण वे बेसुध हो गए। परिजन उन्हें अस्पताल लेकर गए। जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। शाम को दोनों का दाह संस्कार कर दिया गया। दोनों बच्चों के आकस्मिक निधन के बाद परिजनों का रो-रो कर बुरा हाल था।

शादी में जाने की तैयारियों में लगा था परिवार की जानकारी के अनुसार सौरभ के मामा के लड़के की गुरुग्राम में शादी थी। सौरभ की मां अपने भतीजे की शादी में शामिल होने के लिए कुछ दिन पहले ही चली गई थी। आज सौरभ ने अपने परिवार को लेकर जाना था। शादी में जाने के लिए परिवार तैयारियों में लगे हुए थे। इसी बीच दोनों भाई नजदीक ही नाई की दुकान से बाल कटवाकर आए थे।

बाथरूम की खिड़कियां बंद थीं

इसके बाद दोनों घर के फर्स्ट फ्लोर पर बने बाथरूम में नहाने चले गए । बाथरूम में उन्होंने गैस गीजर ऑन कर लिया। गैस लीक होने की वजह से दोनों अंदर बेहोश हो गए। बाथरूम की खिड़कियां बंद थी। घर में उस समय उनकी मां ही मौजूद थी। सौरभ घर के नजदीक ही बनी दूसरी शाप पर गए हुए थे।
काफी देर तक नहीं आए बाहर तो परिजनों को पता चला जब काफी देर तक दोनों बच्चे बाथरूम से बाहर नहीं आए तो मां ने दोनों को आवाजें लगाई। परंतु बच्चों ने जवाब नहीं दिया। इसके बाद मां फर्स्ट फ्लोर पर बने बाथरूम में पहुंची। दोनों गैस लीक के कारण बेसुध होकर पड़े थे। तभी पत्नी ने आनन- फानन में अपने पति को फोन किया। जिसके बाद उन्हें शहर के निजी अस्पताल में लेकर गए। परंतु चिकित्सकों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। मृतकों के पिता सौरभ सिंघल फोटो स्टूडियो चलाते हैं।

गैस गीजर से निकलती है कार्बन मोनो ऑक्साइड गैस

मेडिकल एक्सपर्ट के मुताबिक गैस गीजर LPG गैस सिलेंडर से चलते हैं। गैस गीजर से कार्बन मोनो ऑक्साइड और नाइट्रो ऑक्साइड गैस बनती है। ये गीजर बाथरूम से बाहर ही लगवाए जाते हैं। बाथरूम में ये गीजर लगवाने के लिए वेंटिलेशन की व्यवस्था भी जरूर की जानी चाहिए। गीजर से विषैली गैस शुरुआत में ही निकलती है। ऐसे में उसे ऑन करते ही बाथरूम में तुरंत न जाएं। कुछ देर वेट करने के बाद ही अंदर जाएं।

दिमाग को डेड कर देती है कार्बन मोनो ऑक्साइड गैस
एक्सपर्ट्स के मुताबिक गैस वाले गीजर से लीकेज होने पर कार्बन मोनो ऑक्साइड गैस बाथरूम में मौजूद व्यक्ति को पहले बेहोश करती है। फिर उसके दिमाग पर असर करती है। ये सब इतनी जल्दी होता है कि शरीर को कुछ महसूस भी नहीं होता । अगर, 5 मिनट से ज्यादा देर तक व्यक्ति बाथरूम में गैस के बीच में रह जाए तो ब्रेन डेड होने की संभावना रहती है।

कैसे बचाव करें

 

गैस गीजर लगवाया हो तो गैस सिलेंडर और गीजर दोनों बाथरूम से बाहर रखें। पानी को पाइप के जरिए बाथरूम तक ला सकते हैं।

बेहतर होगा कि बाथरूम का दरवाजा बंद करने से पहले ही बाल्टी में गर्म पानी भर लें । गीजर बंद करने के बाद ही नहाएं । सुनिश्चित करें कि बाथरूम में क्रॉस वेंटिलेशन हो ।

कोई नहाकर निकले, तो तुरंत बाथरूम में नहाने न जाए। कुछ देर के लिए दरवाजा खुला छोड़ दें। एक के बाद एक लगातार कई लोगों के नहाने से बाथरूम में कार्बन मोनोऑक्साइड के जमा होने की आशंका बढ़ जाती है।