पाली जिले में निर्मित श्री पार्श्व घी के घटिया होने के संदेह में नमूने लेकर घी किया सीज

कोटा। मुख्यमंत्री भजनलाल शर्मा लगातार मिलावट खोरों पर कार्रवाई के लिए विभाग पर शिकंजा कसे हुए हैं। चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग की टीम ने कोटा में कई जगह छापेमारी की और घटिया घी होने के संदेह में घी को सीज किया है। एवं मसालों पर भी कार्रवाई कर सैंपल लिए।

कोटा के सीएमएचओ डॉक्टर जगदीश सोनी ने महका संसार को बताया कि गजानंद मसाला के डिस्ट्रीब्यूटर मेसर्स छतरी वाला मार्केटिंग रंगबाड़ी पर कार्यवाही की। हालाकि वहां टीम को गजानंद मसाले का अनसेफ लौट नहीं मिला विक्रेता ने केवल गजानंद हींग और मिक्स मसाले का कारोबार करना बताया गया। प्रदेश में कई जगह पर हुई कार्रवाई में गजानंद मसाले भी अनसेफ पाए गए थे। वही टीम ने उसी जगह पर पाली के रानी गांव में निर्मित श्री पार्श्व ब्रांड जी को सीज किया। प्रथम दृष्टया श्री पार्श्व ब्रांड घी को देखने पर घटिया क्वालिटी का होना पाया गया। साथ ही इसमें कलर के मिलावट की भी आशंका दिखाई दी गई है। इसी के चलते खाद्य सुरक्षा दल की टीम ने श्री पार्श्व ब्रांड घी के आधा-आधा लीटर के 54 नग सीज किए हैं लिए गए नमूनों को जांच के लिए भेजा जाएगा रिपोर्ट आने पर नियम अनुसार कानूनी कार्य भी की जाएगी।