स्वास्थ्य विभाग की टीम ने तीन वाटर प्लांटो का किया निरीक्षण, तीनों जगह से लिए सैंपल

सीकर। स्वास्थ्य विभाग की टीम ने रिंग्स कस्बे में वाटर प्लांट पर कार्यवाही की है। बोतल बंद पानी तैयार करने वाले प्लांट की व्यवस्थाएं देखी, तीनों प्लांट से पानी के सैंपल लेकर जांच के लिए भिजवाए गए हैं टीम ने कस्बे के विनीत इंडस्ट्रीज, केआरएम इंडस्ट्रीज और बिजारणिया इंटरप्राइजेज से पैकेज्ड वॉटर के सैंपल दिए हैं।

खाद्य सुरक्षा दल की टीम ने भारतीय मानक ब्यूरो और एफएसएसआइ के लाइसेंस भी जांचे, निरीक्षण के दौरान प्रोसेसिंग प्लांट में साफ सफाई रखने के निर्देश भी दिए। तय मानकों के मुताबिक बोतल बंद पानी तैयार करने के निर्देश दिए। सीएमएचओ डॉक्टर निर्मल सिंह ने बताया कि गर्मियों में पीने के पानी की खपत बढ़ जाती है इसी को ध्यान में रखते हुए मंगलवार को एफएसओ मदनलाल भाटिया, महमूद अली और नंदलाल मीणा की टीम ने रिंग्स में बोतल में पानी पैक कर सप्लाई करने वाले पैकिंग वाटर प्लांट का निरीक्षण किया। पैकिंग ड्रिंकिंग वाटर के सैंपल लिए सैंपलों को जांच के लिए जयपुर प्रयोगशाला में भिजवाया गया है सीएमएचओ ने पैकिंग पानी सप्लाई के लिए वाटर प्लांट के निरीक्षण के दौरान एफएसएसआई आईएसआई और आईएसओ सर्टिफिकेट की भी जांच की। आईएसआई और आईएसओ लाइसेंस जारी करने वाली अथॉरिटी को प्लांट की स्थिति से अवगत कराया। सीएमएचओ ने बताया कि पानी सैंपल में गड़बड़ी मिलने पर प्लांट संचालकों के खिलाफ कानूनी कार्यवाही की जाएगी। टीम में रिंग्स कस्बे में आईटीसी लिमिटेड से आलू मसाला और जीरा पाउडर का भी सैंपल लिया सभी सैंपल को जांच के लिए खाद्य प्रयोगशाला जयपुर भेजा जाएगा।