कलकत्ता चाट भंडार से लिया था सैंपल, सभी सब स्टैंडर्ड पाए गए

जयपुर। अगर आप चाट के शौकीन है तो सावधान हो जाए खाद्य सुरक्षा दल के अतिरिक्त आयुक्त पंकज ओझा ने 5 अप्रैल को सचिवालय के पास स्थित कलकत्ता चाट भंडार से पनीर और दही के सैंपल लिए थे जिसकी जांच रिपोर्ट आने के बाद पता चला कि दोनों ही वस्तुएं जांच मानक नहीं पाई गई और जांच करने के बाद ये सैंपल सब स्टैंडर्ड पाए गए।

क्या होता है सब स्टैंडर्ड का मतलब

खाद्य सुरक्षा दल द्वारा सैंपल लेने के बाद उनको जांच में भेजा जाता है और जांच के दौरान या तो सैंपल पास हो जाते हैं यानी वह खाने योग्य होते हैं इसका कोई तरह का नुकसान नहीं है वहीं दूसरी कैटेगरी में सब स्टैंडर्ड खाद्य पदार्थ होते हैं यानी उनको खाने से ना तो आपको नुकसान होने वाला है ना ही आपको इसको फायदा मिलेगा यानी गुणवत्ता में कमी होती है।महका संसार साथ ही तीसरे स्तर पर खाद्य पदार्थ अमानक पाया जाता है यानी वह किसी भी तरीके से खाने योग्य नहीं होता है ऐसे खाद्य सामग्री खाने के बाद फूड प्वाइजनिंग, हार्ट,लिवर एवं कैंसर जैसी बीमारीया हो सकती है।

जयपुर की बहुत फेमस दुकान है कलकत्ता चाट भंडार

जयपुर के सचिवालय के पास स्थित कोलकाता चाट भंडार इस क्षेत्र में काफी प्रसिद्ध है और दूर-दूर से लोग इस चाट को खाने आते हैं अधिकतर सचिवालय में आने वाले लोग बड़े शौक से इस चाट को खाते हैं ये खबर आप महका संसार पर पढ़ रहे हैं एवं सचिवालय में कार्यरत कर्मचारी भी इस चाट को खाने आते हैं लेकिन जांच के बाद पता चला है कि दही और पनीर दोनों सब स्टैंडर्ड है जिसको खाने से आपको कोई फायदा नहीं मिलने वाला है।